SSP ने बताया कैसे किया पुलिस ने नितिन भंडारी मर्डर केस का खुलासा





नवीन चौहान.
हरिद्वार के एसएसपी अजय सिंह ने नितिन भंडारी मर्डर केस का खुलासा करते हुए बताया कि कैसे गेहूं की टंकी में मिले शव की शिनाख्त की गई और कैसे फिर हत्यारों तक पहुंच कर उन्हें गिरफ्तार किया गया।

एसएसपी ने बताया कि पुलिस टीम द्वारा घटना के बारे में जानकारी की तो मकान मालिक ने बताया कि उसने किरायेदारों का सत्यापन नहीं किया था।किरायेदारों के नाम पते के बारे में भी कोई सही जानकारी वह नहीं दे सका था। मृतक की जेब से एनटीएल कम्पनी का एक कागज मिला था, जिस आधार पर पुलिस द्वारा कम्पनी के कर्मचारियों से मृतक की शिनाख्त कराने पर ज्ञात हुआ मृतक नितिन भंण्डारी पुत्र ओम प्रकाश भंण्डारी है।

शिनाख्त के आधार पर मृतक के परिजनों से सम्पर्क कर जानकारी ली गई। विनोद प्रकाश भंण्डारी पुत्र जितेंद्र सिंह भंण्डारी निवासी ग्राम चौडिख थाना पौड़ी चौकी पाबौ तहसील पौड़ी जनपद पौड़ी गढ़वाल की तहरीर के आधार पर मु0अ0सं0- 1141/22 धारा 302 भादवि बनाम अज्ञात पंजीकृत किया गया।

इलेक्ट्रॉनिक सर्विलेंस के आधार पर अभि0गणों के मोबाईल नम्बर मिले, जिसमें मोबाईल नम्बर की आई0डी0 बुलन्दशहर यूपी मिलने पर एक पुलिस टीम को तुरन्त बुलन्दशहर के लिए रवाना किया गया। जांच में पता चला कि अभियुक्तगण घटना को अंजाम देने के बाद जयपुर और ग्रेटर नोयडा के अलावा बुलन्दशहर व गाजियाबाद में अलग अलग ठहरे हुए हैं।

पुलिस टीम को मिली जानकारी अनुसार महिन्द्रा पिकअप चालक द्वारा बताया गया कि मेरी महिन्द्रा पीकअप दो लड़को ने अपना घर का सामान बुलन्द शहर ले जाने के लिए बुक करायी थी जो कि बुलट मोटर साईकिल में आये थे। जिसका नम्बर UK17S4986 है। तत्पश्चात पुलिस टीम द्वारा बुलट मोटर साईकिल के नम्बर से नाम पता तस्दीक किया गया।

दिनांक 04.12.2022 को पुलिस टीम द्वारा घटना में संलिप्त अभि0गण 1. गुलशन बेगम पत्नी जफर, 2. विधि विवादित किशोर को बुलन्दशहर उ0प्र0 से नियमानुसार पकड़ा गया। जिनकी निशांदेही पर मृतक का गैस स्लैंडर व फ्रीज और घटना में प्रयुक्त बुलेट मोटर साईकिल UK17S4986 बरामद की गयी।

दिनांक- 04.12.2022 को अन्य पुलिस टीम द्वारा वांछित अभियुक्तगण आजाद पुत्र जफर, नौशाद पुत्र जफर निवासीगण धमेडा अड्डा वार्ड न0 32 थाना कोतवाली नगर बुलन्दशहर उ0प्र0 को उनके किराये के कमरे कस्बा हल्दौनी, दादरी ग्रेटर नोयड़ा उ0प्र0 से दबोचा गया। जिनसे मृतक से लिए गये एक लाख दस हजार रूपये नगद व मृतक का अन्य सामान बरामद किया गया।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *