त्यौहारों को देखते हुए पुलिस अलर्ट मोड पर, डीजीपी अशोक कुमार ने दिये ये निर्देश

नवीन चौहान.
प्रदेश में कानून व्यवस्था बेहतर बनाए रखने और अगामी त्यौहारों को देखते हुए डीजीपी अशोक कुमार ने पुलिस अधिकारियों को दिशा निर्देश ​जारी किये हैं। वीडिया कांफ्रेंसिंग के जरिए अधिकारियों से फीड बैक भी लिया गया। इसके अलावा इस दौरान विभागीय कार्यों की समीक्षा भी की गई।

डीजीपी अशोक कुमार ने समस्त परिक्षेत्र एवं जनपद प्रभारियों के साथ पुलिस मुख्यालय स्थित सभागार में वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से प्रदेश की कानून व्यवस्था और आगामी त्यौहार- दशहरा, बारह बफात, वाल्मीकि जयंती के विषय में आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।

बैठक में पुलिस महानिरीक्षक, अपराध एवं कानून व्यवस्था वी मुरूगेशन, पुलिस महानिरीक्षक, अभिसूचना एवं सुरक्षा संजय गुंज्याल, पुलिस उपमहानिरीक्षक/निदेशक यातायात मुख्तार मोहसिन, पुलिस उपमहानिरीक्षक, पी/एम- सेंथिल अबुदेई कृष्ण राज एस, पुलिस उपमहानिरीक्षक, कार्मिक सुनील कुमार मीणा, पुलिस अधीक्षक, अपराध एवं कानून व्यवस्था श्वेता चौबे सहित अन्य पुलिस अधिकारी उपस्थित रहे।

ये दिये गए दिशा निर्देश

  1. जिन थाना सर्किल क्षेत्रान्तर्गत अभियोग अनावरण, सम्पत्ति रिकवरी और गिरफ्तारी कम हैं, उनकी जवाबदेही तय किये जाने हेतु निर्देशित किया।
  2. चारों बड़े जनपद- देहरादून, हरिद्वार, नैनीताल एवं ऊधमसिंहनगर में साइबर, एसओजी एवं एडीटीएफ के पर्यवेक्षण हेतु क्षेत्राधिकारी ऑपरेशन (ब्व् व्चमतंजपवद) को नियुक्त किये जाने हेतु निर्देशित किया।
  3. साइबर अपराधों पर प्रभावी कार्यवाही हेतु साइबर सेल को सुदृढ़ करते हुए सेल में दक्ष कर्मियों को नियुक्त किया जाए।
  4. आगामी त्यौहार दशहरा, बारह बफात, वाल्मीकि जयंति के दृष्टिगत समस्त जनपद प्रभारियों को जिलाधिकारी से सम्नवय बनाने एवं इस अवसर पर आयोजक समितियों एवं धर्मगुरूओं से भी वार्ता कर केन्द्र एवं राज्य सरकार की कोरोना सम्बन्धी गाइडलाईन का अनुपालन सुनिश्चित कराने हेतु निर्देशित किया।
  5. थानों पर जन शिकायतों को रिसीव न करने और शिकायतकर्ता का फोन रिसीव न करने वालों के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जाए।
  6. त्यौहारों के दृष्टिगत गलत तरीके से गाड़ियां पार्क कर जाम की स्थिति उत्पन्न करने वालों पर कार्यवाही की जाए।
  7. महिला शिकायातों पर प्रभावी कार्यवाही हेतु बनाए गए गौरा शक्ति एप का व्यापक प्रचार-प्रसार करने एवं उससे प्राप्त शिकायतों की नियमित मॉनिटरिंग कर निस्तारण करने हेतु भी जनपद प्रभारियों को निर्देशित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *