DAV में बच्चों ने जाना साइबर क्राइम से कैसे बचें, नशीले पदार्थ के दुष्प्रभाव के बारे में किया जागरूक





नवीन चौहान.
पुलिस मुख्यालय उत्तराखण्ड द्वारा चलाए जा रहे अभियान के तहत डीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल जगजीतपुर के छात्रों को यातायात, महिला सुरक्षा, साइबर अपराध एवं नशीले पदार्थों के दुष्प्रभाव के बारे में जानकारी देते हुए जागरूक किया गया। अतिथियों का स्वागत विद्यालय के कार्यवाहक प्रधानाचार्य मनोज कुमार कपिल ने पुष्प गुच्छ देकर किया।

एएसआई प्रदीप कुमार सिंह, एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल से महिला कांस्टेबल गुरप्रीत कौर, महिला हेल्पलाइन से महिला कांस्टेबल सीता व साइबर सेल से कांस्टेबल शक्ति सिंह, कांस्टेबल विवेक व एंटी ड्रग से महिला कांस्टेबल चांदनी ने बच्चों को उपरोक्त विषयों से अवगत कराया।

साइबर सेल द्वारा बच्चों को बताया गया कि हमें साइबर क्राइम से कैसे बचना चाहिए। हमें हमेशा गूगल प्ले स्टोर द्वारा प्रमाणित ऐप्स का ही उपयोग करना चाहिए। हमें अपनी व्यक्तिगत जानकारी किसी भी व्यक्ति को तब तक नहीं देनी चाहिए जब तक कि हम उसे अच्छी तरह से न जान लें। अगर हमारे साथ साइबर क्राइम से जुड़ी कोई दुर्घटना होती है तो टोल फ्री नंबर 1930 पर कॉल किया जा सकता है।

लड़कियों को महिला सुरक्षा से जुड़े ऐप ‘गौरा शक्ति’ के बारे में भी बताया गया ताकि पुलिस समय रहते बच्चों और महिलाओं को आवश्यक सुरक्षा प्रदान कर सके। सभी छात्रों और शिक्षकों को अपने मोबाइल में ‘उत्तराखंड पुलिस ऐप’ डाउनलोड करने के लिए भी कहा गया।

बच्चों को नशे के दुष्प्रभाव और यातायात नियमों की जानकारी भी दी गई। कार्यवाहक प्रधानाचार्य मनोज कुमार कपिल ने बच्चों को सड़क पर वाहन चलाते समय सतर्क रहने की सलाह दी और सभी पुलिस कर्मियों का धन्यवाद किया। मंच संचालन कक्षा ग्यारहवीं की छात्रा आस्था सान्याल और स्नेहा मलासी ने सुचारू रूप से किया।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *