डीएवी सेन्टेनरी पब्लिक स्कूल जगजीतपुर में झलकी वैदिक परम्परा की झलक: VIDEO

  • पूर्व प्रधानाचार्य पीसी पुरोहित ने शुरू किया था यह कार्यक्रम
  • वर्तमान कार्यवाहक प्रधानाचार्य मनोज कुमार कपिल निभा रहे अब यह कार्य

नवीन चौहान.
डीएवी सेन्टेनरी पब्लिक स्कूल जगजीतपुर में वैदिक चेतना सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। इस तीन दिवसीय सम्मेलन में छात्र-छात्राओं ने अपनी शानदार प्रस्तुति से सभी का मन मोह लिया। इस आयोजन से वैदिक परम्परा की झलक दिखायी दी।

डीएवी सेन्टेनरी पब्लिक स्कूल हरिद्वार में गत वर्षों की भांति वैदिक परम्परा का निर्वहन करते हुए त्रिदिवसीय वैदिक चेतना सम्मेलन का आयोजन वर्चुअल माध्यम से किया जा रहा है, ताकि अधिक से अधिक संख्या में विद्यार्थी एवं अभिभावक जुड़ सकें। यह कार्य पूर्व प्रधानाचार्य पीसी पुरोहित ने शुरू किया था।

विद्यार्थियों को किताबी ज्ञान के साथ-साथ वेदों का ज्ञान, सामाजिक रीतियों का ज्ञान, देशभक्ति की भावना पैदा करना अध्यापकों का नैतिक कर्तव्य है, उसी कर्तव्य का पालन डीएवी जगजीतपुर कर रहा है। विद्यालय के पूर्व प्रधानाचार्य पीसी पुरोहित द्वारा आर्य रत्न डाॅ. पूनम सूरी (पद्मश्री अवार्ड से सम्मानित) के दिशा-निर्देश पर आरम्भ किए गए इस कार्य को वर्तमान कार्यवाहक प्रधानाचार्य मनोज कुमार कपिल बखूबी निभा रहे हैं।

इसी कड़ी का आरम्भ करते हुए दिनांक 25.10.2021 को पहले दिन के कार्यक्रम सभी बच्चों के व्हाट्सएप ग्रुप में शेयर किए गए। जिनमें सबसे पहले कक्षा 1 एवं 2 के विद्यार्थियों ने गायत्री मंत्र, आर्य समाज के प्रथम दो नियमों का उच्चारण अति सुन्दर तरीके से किया गया। विद्यार्थियों ने अपनी हस्त क्रियाओं द्वारा दर्शाया कि उन्हें यह मंत्र कितने सुन्दर तरीके से समझ में आए हैं। आशा है वह इसे जीवनभर याद रखते हुए वेदों को अपने जीवन में समाहित करेंगे।

इसके बाद श्रीमद्भगवद् गीता के प्रथम अध्याय के पहले बारह श्लोकों का उच्चारण कक्षा 5 एवं 6 के विद्यार्थियों द्वारा किया गया। जिनके हिन्दी अर्थ उनकी अध्यापिकाओं ने उन्हें समझाए, ताकि वह उन श्लोकों को हृदय में धारण कर उसका उच्चारण कर सकें।

उसके बाद स्वामी दयानन्द सरस्वती जो कि डीएवी के आधार हैं, के सम्पूर्ण जीवन पर एक सुन्दर नृत्य नाटिका ‘अब रस्ता कर दो खाली, आई फौज दयानन्द वाली’ प्रस्तुत की गई। बच्चों की यह प्रस्तुति अवश्य ही उन्हें स्वामी जी के जीवन से प्रेरणा लेकर उन्हें सद्मार्ग पर चलने को प्रेरित करेगी।

बाकी दो दिनों के कार्यक्रम भी इसी प्रकार दिनांक 26 एवं 27 अक्तूबर को व्हाट्सएप ग्रुप द्वारा प्रसारित किए जाएंगे ताकि अधिक से अधिक संख्या में अभिभावक इसका आनन्द प्राप्त कर सकें।

कार्यवाहक प्रधानाचार्य मनोज कुमार कपिल ने सभी अभिभावकों का धन्यवाद किया कि उन्होंने ने इस कार्यक्रम में प्रतिभाग करने के लिए अपने बच्चों को विद्यालय भेजा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *