सीबीएसई बोर्ड 12वीं की परीक्षा स्थगित, 10वीं की परीक्षा रद्द

नवीन चौहान.
कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में देशभर में बढ़ते मरीजों की संख्या को देखते हुए केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए सीबीएसई बोर्ड परीक्षा स्थगित कर दी हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक के बीच हुई उच्च स्तरीय बैठक में 10वीं की परीक्षा रद्द करने और 12वीं की परीक्षा स्थगित करने का निर्णय किया गया है। इस उच्च स्तरीय बैठक में केंद्रीय शिक्षा सचिव भी मौजूद रहे।

परीक्षा रद्द करने की उठ रही थी मांग
सीबीएसई बोर्ड परीक्षा 4 मई से प्रस्तावित थी। इन परीक्षाओं को रद्द करने की मांग कुछ दिनों से जोर पकड़ रही थी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत अन्य कई नेताओं ने भी बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित करने की मांग की थी। बुधवार को केंद्र सरकार की की एक उच्च स्तरीय बैठक बुलायी गई जिसमें सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित करने का निर्णय लिया है। निर्णय के अनुसार कक्षा 10वीं बोर्ड परीक्षाओं को रद्द और कक्षा 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित कर दिया गया है।

कोरोना संक्रमण की समीक्षा के बाद नया शेडयूल
केंद्र सरकार की बैठक में तय किया गया कि अब एक जून को कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा के बाद बोर्ड द्वारा 12वीं की परीक्षा के लिए नया शेड्यूल तैयार किया जा सकता है। केंद्र सरकार की बैठक के बाद इस फैसले की जानकारी केंद्रीय शिक्षा मंत्री निशंक ने ट्वीट कर दी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार, 14 अप्रैल, 2021 को कोरोना स्थिति को देखते हुए मई में प्रस्तावित बोर्ड परीक्षाओं की समीक्षा के लिए एक उच्च-स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की।

छात्रों की भलाई सर्वोच्च प्राथमिकता
बैठक में प्रधानमंत्री ने कहा कि छात्रों की भलाई सरकार के लिए सर्वोच्च प्राथमिकता होनी चाहिए। केंद्र सरकार छात्रों के सर्वोत्तम हितों को ध्यान में रखेगी और यह सुनिश्चित करेगी कि उनके स्वास्थ्य का ध्यान रखा जाए, साथ ही उनके शैक्षणिक हितों को नुकसान भी न पहुंचे। 

बैठक में ये लिए गए निर्णय
चार मई से 14 जून, 2021 तक आयोजित होने वाली कक्षा 12वीं के लिए बोर्ड परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। इन परीक्षाओं को बाद में आयोजित किया जाएगा।
 
बोर्ड द्वारा एक जून 2021 को स्थिति की समीक्षा की जाएगी और विवरण साझा किया जाएगा। परीक्षाओं की शुरुआत की सूचना कम से कम 15 दिन पहले दे दी जाएगी। 

10वीं कक्षा की परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं। 10वीं बोर्ड परीक्षा का परिणाम सीबीएसई की ओर से तैयार की जाने वाली असेसमेंट पद्धति से किया जाएगा।

अगर कोई विद्यार्थी मूल्यांकन के तहत मिले अंकों से संतुष्ट नहीं होता है तो उसे परीक्षा में बैठने के लिए एक मौका दिया जाएगा। परीक्षा परिस्थितियां अनुकूल होने पर आयोजित की जाएगी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *