Breaking News
Home / Haridwar / दो दिवसीय ज्योतिष परामर्श शिविर संपन्न

दो दिवसीय ज्योतिष परामर्श शिविर संपन्न

Read Time0Seconds

नेहा दीवान
स्वामी नारायण सेवा मिशन के तत्वावधान में दो दिवसीय ज्योतिष परामर्श शिविर का सोमवार को समापन किया गया। संस्थापक विश्वास सक्सेना, अध्यक्ष अर्चना सक्सेना व वरिष्ठ समाजसेवी विशाल गर्ग ने प्रख्यात एस्ट्रोलोजर आकर्ष राज को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर आकर्ष राज ने कहा कि ज्योतिष विद्या अनादिकाल से भारत में जानी जाती है। इस विद्या से मनुष्य से अनेकों जानकारियां प्रदान की जा सकती है। ऋषि मुनियों की इस पद्धति का प्रचार प्रसार मानवहित में अवश्य करना चाहिए। भारत के ज्योतिषाचार्य विश्व भर में अपनी अलग पहचान बनाए हुए हैं। दो दिवसीय ज्योतिष सम्मेलन में पधारे सम्मानित नागरिकों को ज्योतिष विद्या की विभिन्न जानकारियों से अवगत कराया। जिसका लाभ अवश्य ही मिलेगा। संस्थापक अध्यक्ष विश्वास सक्सेना व अध्यक्ष अर्चना सक्सेना ने कहा कि ज्योतिष विद्या मनुष्य कल्याण में सहायक सिद्ध होती है। पूर्व व आने वाली संभावनाओं को इस विद्या से जाना जाता है। उन्होंने कहा कि विज्ञान के इस युग मेंज्योतिष विद्या आज भी अपनायी जाती है। जगजीतपुर में आयोजित दो दिवसीय ज्योतिष परामर्श शिविर में एस्ट्रोलोजिस्ट आकर्ष राज द्वारा ज्योतिष विद्या की विभिन्न बारिकीयों से लोगों को अवगत कराया। समाजसेवी विशाल गर्ग ने कहा कि ज्योतिष विद्या आज भी भारत में अपनायी जाती है। इस विद्या के परिणाम लोगों को अचंभित भी करते हैं। अपनी बौद्धिक क्षमताओं से ज्योतिषाचार्य लोगों को प्रभावित करते हैं। झूठ कपट से सभी को बचना चाहिए। लेकिन ज्योतिष विद्या पौराणिक विधि है। जिसका प्रचार प्रसार करना चाहिए। इस अवसर पर सीतांशु पंडित, अनुज गर्ग, नवीन राजवंश, मनीष चौहान, सीमा चौधरी, निशा वर्मा, अमित वालिया, अजय चौधरी, अश्विनी टोंक, रूचि चौहान, सुशील कपूर आदि मौजूद रहे।

0 0
0 %
Happy
0 %
Sad
0 %
Excited
0 %
Angry
0 %
Surprise

About naveen chauhan

Check Also

स्वीडन के महाराज और महारानी ने 14 एमएलडी क्षमता के सीवेज शोधन संयत्र का किया लोकार्पण

सोनी चौहान नमामि गंगे कार्यक्रम के अन्तर्गत उत्तराखण्ड राज्य के हरिद्वार जनपद में हाईब्रिड एम्यूनिटि …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

chef-add
space-available
error: Content is protected !!