Breaking News
Home / Big News / बदमाशों ने आंखों में र्मिची डाली और लूटकर ले गए 33 लाख

बदमाशों ने आंखों में र्मिची डाली और लूटकर ले गए 33 लाख

नवीन चौहान
बेखौफ बदमाशों ने दिन-दहाडे़ पैट्रोल पंप के कर्मचारियों की आंखों में मिर्ची झोंककर नोटों से भरा बैंग लूटकर फरार हो गए। लूटी गई रकम करीब 33 लाख बताई जा रही है। उक्त धनराशि को बैंक में जमा कराने जा रहे थे। लूट की सूचना पर पुलिस ने नाकेबंदी कर चेकिंग की। लेकिन बदमाशों का कोई सुराग नही लग पाया। पीडि़तों ने पुलिस को बताया कि चार बदमाश दो बाइकों पर सवार थे। पुलिस पीडि़तों के बयान के आधार पर बदमाशों के हुलिए का स्कैच बनाने का प्रयास कर रही है। घटना मंगलौर कोतवाली क्षेत्र की है।
रूड़की के मंगलौर कोतवाली क्षेत्र में ललित मोहन अग्रवाल का अजंता फीलिंग स्टेशन है। सोमवार की सुबह करीब 12 बजे इस पैट्रोल पंप के दो कर्मचारियों से बदमाशों ने लूट की घटना को अंजाम दिया। बदमाश करीब 33 लाख की नकदी लूटकर फरार हो गए। पैट्रोल पंप के मालिक ललित मोहन अग्रवाल ने बताया कि शनिवार और रविवार को बैंक की छुट्टी थी। लिहाजा शुक्रवार शाम से लेकर सोमवार सुबह तक की पैट्रोल पंप की सेल को बैंक में जमा कराने के लिए ललित और पवन को भेजा था। 12 बजे सुबह आमिर अपने दूसरे साथी पवन के साथ रविवार की पैट्रोल ब्रिकी की कलेक्शन को बैंक में जमा कराने निकला। पवन बाइक चला रहा था। जबकि आमिर बैंग पकड़कर पीछे बैठा था। आसफनगर झाल के पास चार युवकों ने तमंचे के बल पर दोनों को रोक लिया। इससे पहले कि ये कुछ समझ पाते इनकी आंखों में मिर्ची डाल दी। बदमाश बैंग लूटकर फरार हो गए। आमिर ने छोटे भाई रतन लाल को लूट की सूचना दी। जिसके बाद पुलिस को पूरा घटनाक्रम बताया गया। लूट की सूचना पर एसपी देहात नवनीत भुल्लर व कोतवाली मंगलौर की पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने तमाम जानकारी जुटाई है।
पल्सर बाइक पर सवार बदमाश
लूट की वारदात को अंजाम देने वाले दो बाइक पर चार बदमाश बताए जा रहे थे। बदमाशों के पाए एक पल्सर वाहन भी था। जबकि उनके पास तमंचा भी था। ऐसे में लूट के इरादे से आए बदमाश पूरी तैयारी से थे। अगर बदमाशों से विरोध किया जाता तो वह किसी बड़ी घटना को भी अंजाम दे सकते थे। लेकिन वह रकम लूटकर फरार हो गए। इससे साफ जाहिर होता है कि बदमाशों का मकसद रकम लूटना ही था।
रैकी कर चुके थे बदमाश
अजंता फीलिंग स्टेशन से आसफनगर झाल घटनास्थल की दूरी महज तीन किलोमीटर की है।पवन और आमिर घटनास्थल पर सात मिनट में पहुंच गए। इससे एक बात तो साफ है कि बदमाशों ने इस पूरे लूटकांड के लिए रैकी कर चुके थे।संभावना ये भी है कि दो बदमाश उनका पैट्रोल पंप से पीछा भी कर रहे हो। हालांकि पुलिस इस लूटकांड से परदा उठा देंगी। देर सबेर बदमाशों को पकड़ भी लेगी। लेकिन दिन-दहाड़े हुई लूट से पुलिस व्यवस्था पर सवाल उठना लाजिमी है। लेकिन पूरे घटनाक्रम से साफ है कि बदमाश सुबह सबेरे नौ बजे के करीब ही पैट्रोल पंप पर घात लगाकर बैठ गए थे। जैसे ही कर्मचारी बैंक के लिए निकले उन्होंने लूटकांड को अंजाम दिया।
कर्मचारियों के परिचित भी हो सकते है
पैट्रोल पंप पर कार्य करने वाले कर्मचारी आमिर और पवन के परिचित भी पुलिस के रडार पर आ गए है। संभावना ये भी है कि परिचितों को मालूम हो कि ये बैंक में पैंसा जमा कराने जायेंगे। हो सकता है कि किसी के मन में लालच आ गया हो। फिलहाल पुलिस सभी एंगल को ध्यान में रखकर बदमाशों की तलाश कर रही है।
एसएसपी जन्मेजय खंडूरी ने लूटकांड का पर्दाफाश करने के लिए पुलिस की चार टीमें गठित कर दी है। एसपी देहात नवनीत भुल्लर के नेतृत्व में एसओजी, वीडियो सर्विलांस, मंगलौर कोतवाली और गंगनगर कोतवाली की टीम बदमाशों की सुरागरसी और पतागरसी करेंगी। पुलिस ने मुखबिर तंत्र को भी सक्रिय कर दिया है। फिलहाल पुलिस टीम वीडियो फुटेज तस्दीक करने और बदमाशों के हुलिए का स्कैच बनाने का प्रयास कर रही है।

About naveen chauhan

Check Also

हरिद्वार को जल्द मिलेंगे कुंभ मेलाधिकारी और मेला डीआईजी

नवीन चौहान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कुंभ महापर्व 2021 की तैयारियों को मूर्त रूप …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!