Breaking News
Home / Crime / शोरूम में घुसकर मोबाइल चोरी करने वाले गैंग का खुलासा

शोरूम में घुसकर मोबाइल चोरी करने वाले गैंग का खुलासा

Read Time0Seconds

नवीन चौहान

हरिद्वार। मोबाइल शोरूम में चोरी करने वाले गैंग के एक सदस्य को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी युवक को हरिद्वार पुलिस ने बिहार के चम्पारन से गिरफ्तार किया है। आरोपी के कब्जे से 10 हजार की नकदी, मोबाईल फोन व आईपैड के खाली डिब्बे, एक मोबाईल फोन, पावर एडॉप्टर व यूएसबी लाईटिंग केबल आदि सामान बरामद किया हैं। जबकि इस गिरोह के अन्य सदस्यों को गिरफ्तार करने के लिसे पुलिस जुटी है। सभी आरोपी बिहार के एक ही गांव के रहने वाले हैं। आरोपी युवकों के खिलाफ कई दर्जन मुकदमे पूर्व में दर्ज है।
एसएसपी कृष्णकुमार वीके ने चोरी की वारदात का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि रानीपुर मोड स्थित एक शोरूम में चोरी की गई थी। इस चोरी की घटना का खुलासा करने के लिये ज्वालापुर कोतवाली प्रभारी अमरजीत सिंह व सीआईयू  प्रभारी प्रदीप बिष्ट के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया। पुलिस ने सर्विलांस की मदद से चोरों का पता लगाया तो हरिद्वार के एक होटल में आने का पता चला। जब पुलिस ने होटल के सीसीटीवी कैमरों को खंगाला तो बदमाशों की सुरागरसी हो गई। पुलिस को बिहार के चम्पारन जाकर छानबीन की तो नेपाल बॉर्डर के पास थाना रकसौल क्षेत्र से शाहवाज पुत्र सफी मौहम्मद निवासी ग्राम व थाना घोड़ासन निकट वीरता चौक जिला पूर्वी चम्पारन बिहार को गिरफ्तार कर लिया गया। सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने अपने साथियों के साथ मिलकर चोरी की घटना को अंजाम देना कबूल कर लिया। गिरफ्तार आरोपी ने बताया कि चोरी के माल में से एक मोबाईल फोन व एक आईपैड उसने नेपाल में बेच दिया था। गिरोह के बाकी सदस्य भी नेपाल में छिपे हुए हैं। एसएसपी ने बताया कि नेपाल में छिपे आरोपियों की गिरफ्तारी व चोरी किए गए माल की बरामदगी के लिए इंटरपोल की मदद ली जाएगी। जल्द ही सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। गिरोह के लोग कई राज्यों में चोरी की वारदातों को अंजाम दे चुके हैं। घटना को अंजाम देने से पूर्व गिरोह के सदस्य रैकी करते हैं। गिरोह के सदस्य शौरूम के शटर को जैक लगाकर ऊपर उठा देते हैं। इसके बाद एक सदस्य जिसे प्लेयर कहा जाता है, को अंदर प्रवेश कराया जाता है। प्लेयर अंदर घुसकर सामान बैग में भरकर लाता है। इस दौरान बाकी सदस्य आसपास निगरानी करते रहते हैं। आरोपियों का गांव नेपाल सीमा से सटा हुआ है। गिरोह के कई सदस्यों की रिश्तेदारी भी नेपाल में है। घटना करने के बाद पुलिस से बचने के लिए सभी नेपाल में जाकर छिप जाते हैं। चुराया गया माल भी उनके द्वारा नेपाल में ही बेचा जाता है।
फरार अपराधियों की तलाश
1.ललन शाह पुत्र टुनटुन शाह के खिलाफ बिहार में कई मुकद्मे दर्ज हैं। उसके खिलाफ राजस्थान के उदयपुर में भी एक मुकदमा दर्ज है।
2.विपतदास पुत्र रामनाथ दास थाना घोड़ासन का हिस्ट्रीशीटर है। उसके खिलाफ भी बिहार सहित राजस्थान व कोलकाता में कई मुकदमा दर्ज हैं।
3.संतोष पुत्र गौरीशंकर के खिलाफ बिहार व हरियाणा में कई मुकदमा दर्ज हैं।
4.प्रभुनाथ पाण्डे उर्फ सिवा पुत्र विनोद पाण्डे श्रीनगर में मुकदमा दर्ज हैं।
5.शराज पुत्र जुमलमिया
6.राजू पुत्र मुसाफिर दास
7. रंजन पुत्र उमाशंकर कलकत्ता में तीन मुकदमा दर्ज है।
8. रिजवान पुत्र सराजुल निवासी रकसौल थाना रकसौल पूर्वी चम्पारन मोतीहारी बिहार।

0 0
0 %
Happy
0 %
Sad
0 %
Excited
0 %
Angry
0 %
Surprise

About naveen chauhan

Check Also

‘‘कोसी पुर्नजनन अभियान‘‘ को जन अभियान के रूप में आगे बढ़ाया जायेगा

सोनी चौहान मुख्यमंत्री की प्राथमिकताओं में ‘‘कोसी पुर्नजनन अभियान‘‘ को एक जन अभियान के रूप …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

chef-add
space-available
error: Content is protected !!