कोरोना के विरुद्ध “आओ हम सब योग करें” – कुलपति प्रो. भंडारी

नवीन चौहान.
कोरोना से लड़ने के लिए आमजन की इम्युनिटी मजबूत बनाने के उद्देश्य से योग विज्ञान विभाग द्वारा जनजागरण अभियान का शनिवार को विधिवत उदघाटन गूगल मीट एवं फेसबुक लाइव के माध्यम से ऑनलाइन किया गया. कार्यक्रम का उदघाटन मुख्य अतिथि सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 एन0एस0 भंडारी एवं योग विज्ञान के विभागाध्यक्ष डॉ0 नवीन भट्ट द्वारा संयुक्त रूप से द्वीप प्रज्वलित कर वैदिक मंत्रोच्चार के साथ किया गया.

योग विभागाध्यक्ष डॉ नवीन भट्ट ने सभी अतिथियों का परिचय एवं स्वागत किया और मुख्य अतिथि प्रो0 भंडारी के समक्ष योग विज्ञान विभाग द्वारा आयोजित जनजागरूकता कार्यक्रम की रूपरेखा प्रस्तुत करते हुए बताया कि यह कार्यक्रम कुलपति जी की प्रेरणा से दो स्तरों पर आयोजित होगा.
प्रथम स्तर पर यह कार्यक्रम 1 मई से 15 तक आयोजित किया जाएगा, इसके लिए प्रशिक्षुओं को योग विभाग द्वारा एक लघु-पुस्तिका (यूजर गाइड) प्रदान की जा रही है. जिसके अनुरूप प्रशिक्षुओं द्वारा प्रतिदिन अपनी फेसबुक आईडी के माध्यम से लाइव आकर कोविड-19 के विरुद्ध जागरूकता एवं शारीरिक एवं मानसिक रूप से बचाव हेतु प्रतिदिन एक-एक आसन अथवा प्राणायाम का अभ्यास कराया जाएगा.

दूसरे स्तर पर यह सप्तम अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में आयोजित किया जाएगा जिसके तहत 21 मई से 21 जून तक योग विभाग के 300 से अधिक प्रशिक्षु अपनी-अपनी फेसबुक आईडी से प्रातः एवम सायंकालीन एक घण्टे का लाइव प्रशिक्षण देंगे, जिससे अधिक से अधिक लोग इस अभियान से जुड़ सकें
विभन्न आयु वर्ग के लोगों के लिए ऑनलाइन योगासन प्रतियोगिता कराई जाएगी, एवं योग विज्ञान विभाग के फ़ेसबुक पेज (“योग विज्ञान विभाग सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय, अल्मोड़ा”) पर देश- विदेश के योग विशेषज्ञों, विद्वतजनों, चिकित्सकों, मनोवैज्ञानिकों, आध्यात्मिक जनों एवं ख्याति प्राप्त महानुभावों के प्रयोगात्मक/व्याख्यान सत्र आयोजित किये जाएंगे.
एक माह के निःशुल्क शिविरों में प्रशिक्षण से रहे एवं प्रतिभाग कर रहे प्रतिभागियों को सम्मानित किया जाएगा तथा देश-विदेश में योग के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए 50 से अधिक योग विशेषज्ञों को सम्मानित किया जाएगा.
मुख्य अतिथि कुलपति प्रो0 भंडारी ने अपने संबोधन में कहा कि विश्वविद्यालय को समाज के सापेक्ष अपनी भूमिका तय करनी चाहिए, यह वह समय है जब कि देश में अत्यंत भय, विषाद एवं नकारात्मकता का माहौल है. इस समय समाज को जागरूक करने में शिक्षा एवम शैक्षिक संस्थानों की भूमिका अहम हो जाती है. सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय अपने सृजन काल से ही सामाजिक भूमिका को निभाने में अग्रणी रहा है औऱ विश्वविद्यालय का योग विभाग हमेशा इस कार्य में अग्रसर रहा है. उन्होंने इस अभियान हेतु योग विज्ञान विभाग सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय के समस्त सदस्यों को एवं इस अभियान से जुड़े अन्य महाविद्यालयों को भी शुभकामनाएं दी.
कार्यक्रम में योग प्रशिक्षक गिरीश अधिकारी एवं शोधार्थी विश्ववजीत वर्मा ने अपने विचार रखे और कार्यक्रम के समापन पर सभी का आभार व्यक्त किया. कार्यक्रम का संचालन मोनिका बंसल ने किया.
इस अवसर पर सोबन सिंह जीना विश्ववविद्यालय के योग अध्यापक लल्लन सिंह, रजनीश जोशी, मोनिका बंसल, चंदन लटवाल, विद्या नेगी तथा सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय से संबद्ध टनकपुर महाविद्यालय से योग अध्यापक मदन चड्डा, कुमाऊँ विश्ववविद्यालय के पीजी कॉलेज रामनगर से मुरलीधर कापड़ी, खटीमा महाविद्यालय से धीरज बिनवाल, मोनिका भैंसोड़ा तथा उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय से सहायक प्राध्यापक दीपक कुमार एवं योगविद जया बिष्ट एवं दीपा रावत के साथ ही योग विभाग के छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *