VIDEO- शिक्षक स्वयं एक विद्यार्थी, उसे सदैव सीखना जारी रखना चाहिए: अनुपम जग्गा





  • एस.एम. पब्लिक स्कूल में दो दिवसीय क्षमता संवर्द्धन कार्यशाला

नवीन चौहान.
एस.एम. पब्लिक स्कूल में दो दिवसीय क्षमता संवर्द्धन कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित आयोजित की गई। इसका शीर्षक समावेशी शिक्षा रहा। कार्यशाला में सिटी कोर्डिनेटर अनुपम जग्गा ने कहा कि शिक्षकों को हमेशा एक ​विद्यार्थी की तरह सीखते रहना चाहिए।

सिटी कोर्डिनेटर ने कहा कि आज के आधुनिक युग में शिक्षा में भी तकनीक का प्रवेश हो गया है। शिक्षकों को चाहिए कि वह स्वयं शिक्षा के क्षेत्र में विकसित हो रही तकनीकों का ज्ञान प्राप्त कर उससे विद्यार्थियों को बांटे। कहा कि शिक्षक को हमेशा कुछ नया सीखते रहना चाहिए।

कार्यशाला का शुभारंभ सी.बी.एस. सी सिटी कोर्डिनेटर अनुपम जग्गा एवं विशेषज्ञ श्वेता शर्मा द्वारा किया गया। सिटी कोर्डिनेटर अनुपम जग्गा ने समावेशी शिक्षा के महत्ता को बताते हुए कहा कि सीखना एक सतत प्रक्रिया है। यह सभी के लिए महत्वपूर्ण है। एक शिक्षक सर्वप्रथम स्वयं एक विद्यार्थी है, उसे सीखना सदैव जारी रखना चाहिए।

विशेषज्ञा श्वेता शर्मा ने सभी प्रतिभागियों को समावेशी शिक्षा के संबंधित विषयों पर महत्वपूर्ण जानकारी दी विद्यालय के प्रधानाचार्य रमणीक शाह सूद द्वारा सभी विद्यार्थियों एवं प्रतिभागियों को समावेशी शिक्षा को अपने जीवन में अपनाने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने प्रेरणा के महत्व को कहानी के माध्यम से समझाया।

उप- प्रधानाचार्या रेखा शर्मा द्वारा विशेषज्ञा महोदय का अभिनंदन किया। कार्यक्रम का संचालन राधा सिंह द्वारा किया गया। कु. साक्षी अरोड़ा, सुमित कुमार, प्रदीप बडोला, सोनिका गुलाटी, इंदु आदि का विशेष सहयोग दिया।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *