सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ सात दिवसीय एनएसएस शिविर का समापन





नवीन चौहान.
डीएवी सेन्टेनरी पब्लिक स्कूल, जगजीतपुर हरिद्वार की एनएसएस यूनिट यू0एच 52467 के साप्ताहिक कैम्प का शनिवार को समापन हो गया। समापन के अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया।

समापन समारोह में मुख्य अतिथि ऋषिकुल आयुर्वेदिक काॅलेज के प्राचार्य डाॅ0 अनूप कुमार गक्खड़ एवं एनएसएस के जिला समन्वयक एसपी सिंह ने दीप प्रज्ज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। विद्यालय के कार्यवाहक प्रधानाचार्य मनोज कुमार कपिल ने मुख्यातिथियों का स्वागत पुष्प गुच्छों द्वारा किया। एनएसएस कार्यकर्ताओं ने कार्यक्रम का शुभारम्भ पवित्र गायत्री मंत्रोच्चारण से किया तत्पश्चात उन सबने लक्ष्य गीत गाया।

राष्ट्र भक्ति की भावना जगाते हुए पीहू चतुर्वेदी ने एक सुन्दर कविता प्रस्तुत की तथा अन्य स्वयंसेवकों ने भी देश भक्ति गीत प्रस्तुत किए। अदिति पाण्डेय और माही त्यागी के नृत्य ‘ढोलना गीत’ पर सभी की कदम थिरकने लगे। उसके बाद बच्चों ने पंजाब प्रांत का सुप्रसिद्ध गिद्दा प्रस्तुत कर उपस्थित जन में जोश भर दिया। जीवनदायिनी माँ गंगा को हम प्रदूषित कर रहे हैं-इस पर एक नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत किया गया। माही त्यागी ने स्वामी विवेकानन्द जी के बारे में अपने विचार प्रस्तुत कर युवा मन में देश के प्रति प्रेम को जाग्रत किया। बच्चों ने रंगोली प्रतियोगिता में भी प्रतिभाग किया।

कैम्प के आरम्भ में सभी बच्चों को 6 अलग-अलग टीम के अनुसार विभाजित किया गया था। इनके नाम थे नर्मदा, कावेरी, गंगा, यमुना, सतलुज, ब्यास। प्रतिदिन होने वाली प्रतियोगिताओं के परिणामों को संकलित करने के उपरान्त विजेता टीम के क्रम में नर्मदा प्रथम, कावेरी द्वितीय एवं ब्यास तीसरे स्थान पर रही, तत्पश्चात् क्रमशः सतलुज, गंगा एवं यमुना रही। सभी विजेताओं का मंच पर पुरस्कृत किया गया। उसके बाद सभी स्वयंसेवकों ने इन सात दिनों में उन्हें क्या-क्या अनुभव हुए उसका वर्णन अपने साथियों के साथ साझा किए।

मुख्य अतिथि एस पी सिंह ने बच्चों को अनुशासन में रहकर सर्वदा कार्यरत रहने की प्रेरणा दी। उन्होने कहा कि हमें हमेशा कोई न कोई कार्य करते रहना चाहिए। समय का सदुपयोग कार्यक्षमता एवं कुशलता को बढ़ाता है। डाॅ0 अनूप कुमार गक्खड़ ने विद्यार्थियों को अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग रहने की प्रेरणा दी। उन्होंने कहा कि उचित खान-पान से शारीरिक रूप से ही नहीं वरन मानसिक रूप से भी व्यक्ति स्वस्थ रहता है। उन्होंने बच्चों को जंक फूड से दूर रहने की सलाह देते हुए हरी सब्जियां, सलाद, सूप, दूध, फल एवं जूस आदि लेने पर जोर दिया।

विद्यालय के कार्यवाहक प्रधानाचार्य मनोज कुमार कपिल ने बच्चों को उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की तथा पूरे सप्ताह के कैम्प में उनके द्वारा दर्शाई गई रचनात्मकता, कार्यकुशलता, टीम भावना की भूरि-भूरि प्रशंसा की। उनके कहा कि इस प्रकार के कैम्प के अनुभव उनके भविष्य में कभी न कभी काम आएंगे। उन्होंने कार्यक्रम अधिकारी पूनम गक्खड़ द्वारा कैम्प में करवाई गई प्रत्येक गतिविधि की सराहना करते हुए उनकी कार्यकुशलता, सेवा भावना एवं बच्चों की सुरक्षा एवं सरंक्षण की जिम्मेदारी, बच्चों को उनकी कलात्मकता, रचनात्मकता के लिए प्रोत्साहित करने के लिए हृदय से उनका आभार व्यक्त किया।

कार्यक्रम में दीपमाला शर्मा, शिव कुमार कश्यप, विपिन शाह, मागे्रट सिंह, डाॅ0 पूजा पंवार, डाॅली मेहरोत्रा, रजत दुसेजा की महत्वपूर्ण भूमिका रही।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *