विद्यार्थी विज्ञान मंथन परीक्षा के लिए करें आनलाइन आवेदन, जीतें हजारों की नकद राशि

नवीन चौहान.
गत वर्ष की तरह इस वर्ष भी विज्ञान भारती के द्वारा विज्ञान प्रसार और एनसीईआरटी के साथ मिलकर राष्ट्रीय स्तर पर विद्यार्थी विज्ञान मंथन परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है। इस परीक्षा का मुख्य उद्देश्य बच्चों में विज्ञान के प्रति रुचि उत्पन्न करना तथा विज्ञान के क्षेत्र में भारतीय वैज्ञानिकों के द्वारा दिये गये योगदान से अवगत कराना है।

यह परीक्षा कक्षा 6-11 तक के विद्यार्थियों के लिये आयोजित की जायेगी। उपरोक्त परीक्षा हेतु ऑनलाइन पंजीकरण दिनांक 7 अगस्त से शुरू हो गया है जो कि 31 अक्टूबर तक चलता रहेगा। पंजीकरण का शुल्क मात्र 100 रुपये रखा गया है। यह परीक्षा 3 स्तर पर आयोजित की जायेगी। पहले चरण की परीक्षा ऑनलाइन माध्यम से दिनांक 30 नवम्बर और 05 दिसम्बर को आयोजित की जायेगी जिसमें से विद्यार्थी अपनी सुविधा के अनुसार किसी एक दिन का चयन कर सकते हैं।

परीक्षा ऑनलाइन माध्यम से होगी जिसमें विद्यार्थी इंटरनेट से जुड़े डेस्क्टॉप, लैपटॉप, टेबलेट, ऐंड्रॉएड स्मार्ट्फ़ोन का उपयोग कर इस परीक्षा में सम्मिलित हो सकते हैं। यह परीक्षा हिंदी और अंग्रेज़ी समेत कुल 12 भाषाओं में आयोजित होगी। प्रथम चरण में सफल होने वाले विद्यार्थी द्वितीय चरण की राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में प्रतिभाग करेंगे तथा राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में सफल होने वाले विद्यार्थी राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में प्रतिभाग करेंगे।

राज्य स्तर में प्रथम, द्वितीय तथा तृतीय आने पर क्रमशः 5000,3000 तथा 2000 रूपये की पुरस्कार राशि प्रदान करी जायेगी। ज़िला स्तर तथा विद्यालय स्तर पर स्थान प्राप्त करने पर मेरिट प्रमाणपत्र दिया जायेगा। विद्यालय के प्रधानाचार्य को प्रोत्साहन पत्र तथा अध्यापक समन्वयक को प्रमाणपत्र दिया जायेगा। जोनल स्तर पर स्थान प्राप्त करने पे क्रमशः 5000, 3000 तथा 2000 रुपये की पुरस्कार राशि प्रदान करी जायेगी।

राष्ट्रीय स्तर पर स्थान प्राप्त करने पर क्रमशः 25000, 15000 तथा 10000 रुपये की पुरस्कार राशि प्रदान की जायेगी। इसके अतिरिक्त राष्ट्रीय स्तर पर चयनित विद्यार्थियों को एक वर्ष के लिये प्रतिमाह 2000 रूपये की भास्कर छात्रवृत्ति भी दी जायेगी तथा ज़ोनल और राष्ट्रीय स्तर पर चयनित विद्यार्थियों को को देश की किसी नामी प्रयोगशाला, अनुसंधान संस्थान जैसे डीआरडीओ, इसरो आदि में 1 से 3 हफ़्ते का व्यापक प्रशिक्षण दिया जायेगा।

प्रथम चरण में आयोजित होने वाली परीक्षा में कुल 100 बहुविकल्पिय प्रश्न पूछे जायेंगे जिसमें से 20 प्रश्न विज्ञान के क्षेत्र में भारत के योगदान, 20 प्रश्न आचार्य प्रफुल्ल चंद्रा राय की जीवन गाथा एवं भारतीय स्वतंत्रता संघर्ष एवं विज्ञान, 50 प्रश्न विज्ञान तथा गणित, और 10 प्रश्न तार्किक शक्ति के होंगे जी का उत्तर देने के लिए कुल 90 मिनट का समय दिया जायेगा।

उपरोक्त परीक्षा हेतु अध्ययन सामग्री vvm.org.in पर PDF प्रारूप में उपलब्ध रहेगी। अधिक जानकारी के लिए vvm.org.in पे क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *