जज बेटी ने नम आंखों से दी अपने पिता की चिता को मुखाग्नि


गगन नामदेव
जज बेटी ने नम नम आंखों से अपने पिता की चिता को मु​खाग्नि दी। स्वतंत्रता सेनानी परिवार के उत्तराधिकारी अरविंद शर्मा को कनखल श्मशान घाट में मां गंगा के पावन तट पर पंचतत्व में विलीन हो गए। उनकी चिता को मुखाग्नि उनकी इकलौती संतान उनकी बिटिया शचि शर्मा ने दी। शचि शर्मा देहरादून विकास नगर में सिविल जज सीनियर डिविजन के पद पर तैनात हैं।पिता की चिता को अग्नि देने के दौरान उनकी मां श्रीमती मीनू शर्मा उनकी मदद कर रही थी तब वहां मौजूद लोगों की आंखें नम हो गई मां और पुत्री का पति और पिता के प्रति ऐसा निश्चल और भावपूर्ण उसने देख कर सब भावविभोर हो गए। अरविंद शर्मा का अस्थि विसर्जन भी आज धार्मिक रीति रिवाज के साथ सती घाट कनखल में गंगा में किया गया कनखल शमशान घाट से अस्थियों को एकत्र कर कनखल सती घाट स्थिति तीजी पातशाही गुरुद्वारा गुरु गुरद्वारा गुरु अमर दास जी साहिब में लाई गयी जहां पर अरदास की गई और उसके बाद गंगा में विसर्जित की गई। अरविंद शर्मा का निधन शुक्रवार की देर शाम 5:30 बजे जगजीतपुर कनखल स्थित एक निजी चिकित्सालय में हो गया था। उनका देहांत हृदयाघात के कारण हुआ। उनके अंतिम संस्कार में आज 81 वर्ष की उनकी माता डॉक्टर प्रतिमा शर्मा उनके चचेरे भाई बालेंदु शर्मा अमर दास गुरुद्वारे की संचालिका श्रीमती बिंनिन्दर कौर सोढ़ी उनकी बहन अर्चना शिवपुरी मीनू सिंह उनके बहनोई अवधेश शिवपुरी गुरुद्वारे के ग्रंथी देवेंद्र सिंह , रंअतुल शर्मा काकू अरुण खन्ना शंकर खन्ना दौलत राम शर्मा संजीव चड्डा आदि उपस्थित थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *