गांधी जी के विचार आज के समय में महत्वपूर्ण, सादगी भरा था शास्त्री जी का जीवन: मनोज कपिल





  • राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी व लाल बहादुर शास्त्री की जयन्ती पर डीएवी के बच्चों ने चलाया स्वच्छता अभियान

नवीन चौहान.
डीएवी सेन्टेनरी पब्लिक स्कूल जगजीतपुर, हरिद्वार में 2 अक्तूबर को गाँधी जयन्ती एवं लाल बहादुर शास्त्री जी की जयन्ती बड़े उत्साह एवं श्रद्धा पूर्वक मनाई गई। इस राष्ट्रीय पर्व को वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने स्वच्छता दिवस के रूप में मनाने का आह्वान किया था, जिसे प्रति वर्ष भी भाँति इस वर्ष भी उत्साह पूर्वक मनाया गया।

कार्यक्रम का आरम्भ कनखल के दक्ष मन्दिर परिसर में स्वच्छता अभियान चला कर किया गया जिसमें विद्यालय के सभी अध्यापकगण एवं विद्यालय की एनएसएस यूनिट के कार्यकर्ताओं ने श्रमदान किया। तत्पश्चात् विद्यालय के बाहर आस-पास के क्षेत्र में भी स्वच्छता अभियान चला कर ‘स्वच्छ भारत, स्वस्थ भारत’ का संदेश दिया गया।

स्वच्छता अभियान के उपरान्त दीप प्रज्ज्वलन कर गांधी जी एवं शास्त्री जी की प्रतिमा पर माल्यापर्ण करते हुए उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किए। इस अवसर पर देश के प्रति उनके त्याग एवं बलिदान को याद किया गया। मंच संचालिका हिन्दी अध्यापिका अनीता रावत ने गाँधी जी और शास्त्री जी के जीवन के कुछ प्रसंगों को याद करते हुए आज के युग में भी उन्हें उतना ही प्रासंगिक बताया।

विद्यालय की अध्यापिका वन्दना भारद्वाज ने शिक्षा क्षेत्र में गाँधी जी एवं श्री लाल बहादुर शास्त्री जी द्वारा किए गए कार्यों पर प्रकाश डालते हुए उनका अनुसरण करने की प्रेरणा दी। गीतान्जलि तिवारी ने ‘महात्मा गाँधी-एक परिचय’ विषय पर अपने विचार व्यक्त किए। विद्यालय के संगीत शिक्षकों अर्चना तलेगाँवकर एवं हिमांशु गुप्ता द्वारा अत्यन्त सुन्दर भजन ‘हमारे साथ श्री रघुनाथ तो किस बात की चिंता’ और ‘वैष्णव जन तो तेने कहिए जे पीड़ पराई जाने रे’ श्रद्धासुमन के रूप में अर्पित किए।

विद्यालय के कार्यवाहक प्रधानाचार्य मनोज कुमार कपिल ने महात्मा गाँधी के विचारों को आज के समय में भी महत्वपूर्ण बताते हुए उन्हें जीवन में उतारने की प्रेरणा दी। उन्होने लाल बहादुर शास्त्री जी की सादगी, ईमानदारी एवं देशभक्ति के कुछ प्रसंगों का उदाहरण देते हुए उपस्थितजनों को प्रेरित किया। कार्यक्रम के अन्त में एनएसएस की कार्यक्रम अधिकारी पूनम गक्खड़ ने कार्यक्रम में उपस्थित सभी विद्यार्थियों, शिक्षकों एवं अन्य कर्मचारियों का धन्यवाद किया।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *