मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने संतों के मन की मुराद की पूरी दी जमीन और होगी रजिस्ट्री, देंखे वीडियो


नवीन चौहान
मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि कुंभ मेला क्षेत्र में अखाड़ों को जमीन दी जायेगी। जिससे अगले कुंभ में उनको जमीन के लिए परेशानियों का सामना ना करना पड़े। उन्होंने जमीन की रजिस्ट्री करने की बात की है।


एसएमजेएन डिग्री कॉलेज के भवन लोकापर्ण अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि कोविड की परिस्थिति के बाबजूद कुंभ दिव्य और भव्य होगा। संतों को किसी प्रकार की कोई परेशानी नही होगी। कुंभ दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं को भी कोई दिक्कत नही होने दी जायेगी। लेकिन सबसे बड़ी बात मुख्यमंत्री ने अखाड़ों को जमीन देने की। जिसके बाद अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि महाराज ने तमाम साध संतों की ओर से मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि जमीन का कार्य इसी कुंभ में हो जाए ताकि आगामी कुंभ में किसी प्रकार की दिक्कत ना हो। कार्यक्रम में निरंजनी अखाड़े के सचिव महंत रविंद्र पुरी जी महाराज व तमाम साधु संत व भाजपाई मौजूद रहे। इस दौरान मुख्यमंत्री ​तीरथ सिंह रावत को जन्मदिन की शुभकामनाए भी दी गई।

तीनों शाही स्नान में हैलीकाप्टर से पुष्प वर्षा
मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने संतों के सम्मान और उनकी भावनाओं का सम्मान करते हुए तीनों शाही स्नान में हैलीकाप्टर से पुष्प वर्षा कराने की घोषणा की है। यह बात सुनते ही संत समाज बेहद प्रफुल्लित हो उठा। संतों ने मुख्यमंत्री के लिए तालियां बजाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *