केंद्रीय शिक्षा मंत्री निशंक और विधायक आदेश चौहान की मुहिम रंग लाई, भेल के निजीकरण पर रोक


नवीन चौहान
विधायक आदेश चौहान की मुहिम रंग लाई है। भेल के निजीकरण के विरोध में प्रयास कर रहे आदेश चौहान को सफलता मिल गई। केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री प्रकाश जावेडकर ने विधायक आदेश चौहान को भरोसा देते हुए कहा कि भेल का निजी करण किसी भी सूरत में नहीं किया जाएगा। केंद्र सरकार भेल की स्थिति को सुधारने तथा मजबूती प्रदान करने करने की दिशा में कार्य कर रही है।
विधायक आदेश चौहान ने खुशी जाहिर करते हुए बताया कि आप सब लोगों को बताते हुए अत्यंत हर्ष का अनुभव हो रहा है। लंबे अरसे से नवरत्न संस्थान भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड के निजी करण को लेकर चल रही अफवाहों पर विराम लग गया है। केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री प्रकाश जावेडकर ने भेल के निजी करण करने से इंकार किया है। उन्होंने बताया कि चार दिन पूर्व भेल के सभी श्रमिक संगठनों ने मेरे कैम्प कार्यालय (शिवालिक नगर) में ज्ञापन के माध्यम से यह विषय मेरे संज्ञान में लाया गया था। जिस पर केंद्रीय शिक्षा मंत्री डा.रमेश पोखरियाल निशंक से वार्ता की, उनके माध्यम से दिल्ली में भारी उद्योग मंत्री प्रकाश जावेडकर के आवास पर आयोजित की गई बैठक में डॉ रमेश पोखरियाल निशंक व उन्होंने भेल के निजीकरण को लेकर चल रही अफवाहों एवं एजुकेशन मैनेजमेंट बोर्ड भेल से संबंधित विषय भारी उद्योग मंत्री के सामने पूरी गंभीरता और दृढ़ता के साथ रखा। भारी उद्योग मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा कि भेल का किसी भी सूरत में निजीकरण नहीं किया जाएगा। भेल की स्थिति सुधारने के लिए सरकार कई महत्वपूर्ण कदम उठाने जा रही है। उन्होंने यह भी कहां कि ईएमबी के शिक्षक व कर्मचारियों को किसी भी सूरत में उनकी सेवा अवधि पूर्ण होने से पहले नहीं हटाया जाएगा। विधायक आदेश चौहान ने समस्त भेल परिवार को बहुत-बहुत बधाई दी। उन्होंने कहा कि निश्चित रूप से यह निर्णय हम सबको बहुत राहत एवं प्रसन्नता देने वाला है। देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी, माननीय केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री प्रकाश जावेडकर और विशेष रूप से अपने लोकप्रिय सांसद एवं केन्द्रीय शिक्षा मंत्री डा.रमेश पोखरियाल निशंक का हृदय से आभार व्यक्त करता हूं। इस महत्वपूर्ण बैठक में केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री प्रकाश जावेडकर, केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक, भेल के चेयरमैन नलिन सिंघल, डायरेक्टर मानव संसाधन अनिल कपूर, रानीपुर विधानसभा के पूर्व संयोजक बृजेश शर्मा , मंडल उपाध्यक्ष अतुल वशिष्ठ, संजय सैनी, नितिन चौहान बैठक में रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *