बालेश हत्याकांड का खुलासा, महिला के साथ नजदीकी बनी हत्या की वजह





नवीन चौहान.
लाइनमैन बालेश हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा करते हुए रविंद्र गुर्जर नाम के व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में पता चला कि हत्या के पीछे की वजह एक महिला से बालेश की नजदीकी रही। पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल किया गया तमंचा और बाइक भी बरामद कर ली है।

बोलश हत्याकांड का एसएसपी हरिद्वार डॉ योगेंद्र सिंह रावत ने रूड़की सिविल लाइन कोतवाली में प्रेसवार्ता करते हुए खुलासा किया। एसएसपी डॉ. योगेंद्र सिंह रावत के मुताबिक 11 अगस्त को बिजली विभाग के लाइनमैन बालेश की लउआ गांव में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। घटना के खुलासे के लिए टीमों का गठन किया गया था। पुलिस की अलग-अलग टीमों ने सर्विलांस एवं सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों की तलाश शुरू की तो पता चला कि 2014 में बालेश और रविंद्र गुर्जर नाम के व्यक्ति के एक महिला के साथ संबंध थे।

पुलिस ने इस लाइन पर काम करना शुरू किया तो कड़ी से कड़ी जुड़ती चली गई। पुलिस ने जब रविंद्र गुर्जर की सीडीआर खंगाली तो पुलिस का शक और गहरा हो गया। पुलिस ने रविंद्र से पूछताछ की तो उसने सच उगल दिया। उसने पुलिस को बताया कि 2014 में हरियाणा के मानेसर से मारुति सुजुकी कंपनी के काम से वह भगवानपुर आया था। इस दौरान उसकी पवन नाम के युवक से दोस्ती हुई, उसने ही उसे एक सरिता नाम की महिला से मिलवाया। उनके बीच नजदीकी बढ़ गई। इसी बीच महिला की बालेश के साथ फिर से नजदीकी बढ़ गई।

रविंद्र ने बताया कि पिछले 3 महीनों से सरिता उसके साथ झगड़ा करने लगी थी। उसे यह भी पता चला कि सरिता इस समय बालेश के साथ ज्यादा रहती है, तो उसने बालेश की हत्या की योजना बनाई। आरोपी ने बताया कि उसने अपने दोस्त अनिल से बाइक मांगी और मौका देखकर बालेश की हत्या कर दी। पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल की गई बाइक और तमंचा भी बरामद किया है।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *