Breaking News
Home / Crime / STF की टीम ने पकड़ी नशीले इंजेक्शन की सबसे बड़ी खेप, कॉलेज स्टूडेंटस को होते थे सप्लाई

STF की टीम ने पकड़ी नशीले इंजेक्शन की सबसे बड़ी खेप, कॉलेज स्टूडेंटस को होते थे सप्लाई

नवीन चौहान, उत्तराखंड एसटीएफ की टीम ने नशे के इंजेक्शनों की बड़ी खेप पकड़ने में सफलता हासिल की है। एसटीएफ की टीम ने 1028 इंजेक्शन के साथ एक अभियुक्त को गिरफ्तार किया है। यह नशे का सामान आरोपी कार में छिपाकर सहारनपुर से देहरादून लेकर आ रहा था।
पुलिस के मुताबिक पुलिस उप महानिरीक्षक एस0टी0एफ0, उत्तराखण्ड के निर्देशानुसार अपर पुलिस अधीक्षक एस0टी0एफ0 के निर्देशन में एंटी ड्रग टास्क फोर्स के द्वारा नशे की अवैध तस्करी के विरू़द्ध अभियान चलाया जा रहा है। इसी अभियान के तहत 6 नवंबर की रात में पुलिस उपाधीक्षक, एस0टी0एफ0 के पर्यवेक्षण में ADTF-STF की टीम द्वारा एक शातिर अभियुक्त को नशीले इंजेक्शन की बड़ी खेप के साथ आशारोड़ी बैरियर से गिरफ्तार किया गया। आरोपी के पास से 1028 नशे के इंजेक्शन बरामद किये गए। बताया जा रहा है कि यह इस साल उत्तराखंड में नशीले इंजेक्शनों की सबसे बड़ी बरामदगी है। पुलिस के मुताबिक अभियुक्त उपरोक्त शातिराना तरीके से अपने वाहन संख्या UK07 AT 0038 Indica Vista पर छुपाकर सहारनपुर से देहरादून लेकर आ रहा था। अभियुक्त के उक्त वाहन को भी NDPS Act की धारा के अंतर्गत कब्जे पुलिस लिया गया। आरोपी का नाम महेंद्र सिंह उर्फ सोनू सरदार पुत्र हरभजन सिंह निवासी विंग न0 1 हाउस न0 20/3 प्रेमनगर देहरादून उम्र 43 वर्ष है।
पूछताछ में अभियुक्त महेंद्र उर्फ सोनू सरदार द्वारा बताया गया कि उसके विरुद्ध ndps के काफी मुकदमे है। इंजेक्शन की तस्करी में काफी मुनाफा होने के कारण वह सहारनपुर से रहमान नाम के व्यक्ति से 100 रु का इंजेक्शन खरीद कर 400-500 रु में देहरादून में लाकर प्रेमनगर में पढने वाले छात्रों तथा अन्य लोगों को बेचता था। प्रेमनगर में अपने घर के पास परचून की दुकान की आड़ में वह सारा काम करता था जिससे पुलिस को शक न हो। इसके अलावा प्रेमनगर स्थित सरकारी अस्पताल की ओ0एस0टी0 सेंटर में नशे की आदत छुड़ाने का इलाज कराने वाले लोंगो से संपर्क कर उन्हें भी नशीले इंजेक्शन बेचने का कार्य करता था। प्रेमनगर में मुख्य रूप से दिलीप उर्फ टिक्की ,सुमित,अंकित ,अजय को प्रेमनगर क्षेत्र में इंजेक्शन बेचता था जो इसका माल आगे जनपद देहरादून में नवयुवकों को सप्लाई करते थे। रहमान एवम अन्य साथियों के विरुद्ध पुलिस द्वारा 29 ndps act की कार्यवाही की जा रही है। पुलिस उप महानिरीक्षक एस0टी0एफ0 द्वारा पुलिस टीम को 2500 रु के पारितोषिक की घोषणा की गई है।

 

About naveen chauhan

Check Also

अवैध खनन पर छापेमारी के लिए क्षेत्रीय खनन समिति का गठन, जानिए पूरी खबर

सोनी चौहान अवैध खनन को लेकर प्रशासन पूरी तरह से सख्ती बरत रहा है। जिलाधिकारी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

chef-add
space-available
error: Content is protected !!