Breaking News
Home / Meerut / मेडिकल अस्पताल के डॉक्टरों ने कर दिया मुर्दे का एक्सरे, दो जूनियर डॉक्टरों पर गिरी गाज

मेडिकल अस्पताल के डॉक्टरों ने कर दिया मुर्दे का एक्सरे, दो जूनियर डॉक्टरों पर गिरी गाज

मेरठ। अभी तक आपने जिंदा इंसानों के एक्सरे किये जाते देखे होंगे लेकिर मेरठ के मेडिकल कॉलेज में डॉक्टरों ने एक मुर्दे के ही एक्सरे कर डाले। एक्सरे भी एक दो नहीं करीब 10 एक्सरे मुर्दे के किये गए। यह मामला उच्च अधिकारियों के संज्ञान में आया तो जवाब तलब किया गया। मंगलवार को इस मामले में दो जूनियर डॉक्टरों को सस्पेंड कर दिया गया। इस मामले में अभी कई और भी गाज गिर सकती है।
जानकारी के अनुसार 20 जून 2019 को मेडिकल अस्पताल में एक घायल रिक्शा चालक को भर्ती कराया गया था। यह रिक्शा चालक एक कार चालक द्वारा मारी गई टक्कर से घायल हो गया था। घायल रिक्शा चालक को सुबह करीब 10 बजे भर्ती कराया गया था। बताया जा रहा है कि मेडिकल कॉलेज के इमरजेंसी में भर्ती रिक्शा चालक की इलाज के दौरान दोपहर में मौत हो गई थी। लेकिन अस्पताल के जूनियर डॉक्टरों ने शाम को करीब 6 बजे से 7 बजे के बीच में इस रिक्शा चालक के शव का एक्सरे किया। आरोप है कि मृत रिक्शा चालक के शव के बिना अनुमति 10 एक्सरे कर दिए गए। यह मामला संज्ञान में आने पर मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डा. आरसी गुप्ता ने कैजुअल्टी मेडिकल ऑफिसर, जूनियर डॉक्टर और स्टाफ से जवाब तलब किया था।
प्राचार्य डॉ. आरसी गुप्ता के मुताबिक मंगलवार को जिन दो जूनियर डॉक्टरों को सस्पेंड किया गया है, वे सर्जरी विभाग के डॉक्टर निकुंज और हडडी विभाग से डॉक्टर सुप्रियो हैं। आरोप है कि इन्होंने अपने सीनियर सलाहकार डॉक्टर से परामर्श नहीं किया और खुद ही एक्सरे करने का निर्णय लिया। वहीं दूसरी ओर डॉक्टर और स्टाफ का कहना है कि वे यह जानना चाहते थे कि मृत्यु कैसे हुई है। इसी वजह से एक्सरे किए गए।

About naveen chauhan

Check Also

केबिनेट मंत्री मदन कौशिक से नाराज संत, फारमल्टी नही रियल्टी,सुने वीडियो

नवीन चौहान कुंभ महापर्व 2021 की तैयारियों को लेकर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!