Breaking News
Home / Breaking News / महाकुंभ की तैयारियों में जुटे मेलाधिकारी व आईजी संतों से आशीर्वाद लेने पहुंचे

महाकुंभ की तैयारियों में जुटे मेलाधिकारी व आईजी संतों से आशीर्वाद लेने पहुंचे

नवीन चौहान
अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज से कुंभ मेलाधिकारी दीपक रावत तथा मेला आईजी संजय गुंज्याल ने आशीर्वाद लिया। दोनोें जिम्मेदार अफसरों ने महाकुंभ पर्व 2021 को सकुशल संपन्न कराने के लिए सुरक्षा और व्यवस्था के संबंध में विस्तृत चर्चा की। पूर्व के वर्षो के महाकुंभ पर्व की तैयारियों की जानकारी ली तथा आश्रम अखाड़ों की व्यवस्थाओं की बाबत बात की। इस दौरान महाकुंभ मेला आईजी संजय गुंज्याल से महाकुंभ मेला 2021 के दौरान सुरक्षा व्यवस्था चौक चौबंद रहने का भरोसा दिया। तथा आश्वस्त किया कि कुंभ महापर्व में किसी प्रकार की कोई परेशानी नही होगी। मेलाधिकारी दीपक रावत ने भी कुंभ महापर्व में सभी निर्माण कार्यो को गुणवत्तापूर्वक कराने का भरोसा दिया।
निरंजनी अखाड़े में श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज ने कहा कि महाकुंभ मेला क्षेत्र की सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद होनी चाहिए। लाखों करोड़ों तीर्थ श्रद्धालु गंगा घाटों पर महाकुंभ मेला स्नान में शामिल होने के लिए आते हैं। ऐसे में गंगा घाटों पर सीसीटीवी कैमरों की उचित व्यवस्था की जाए। महाकुंभ मेला क्षेत्र में असामाजिक तत्वों पर रोक लगाने के लिए वृहद स्तर पर सत्यापन अभियान को भी संचालित करना चाहिए। बाहर से आने वाले संत महापुरूषों की सुरक्षा में किसी भी प्रकार की कोई कोताही ना हो। मेला क्षेत्र की आवश्यकता के अनुरूप पुलिस की तैनाती को भी सुनिश्चित की जाए। आश्रम, अखाड़ों, मठ, मन्दिरों और पौराणिक सिद्ध पीठों की सुरक्षा के कड़ाई से इंतजाम किए जाएं। स्थानीय नागरिकों को परेशान किए बगैर आगामी कुंभ मेले की व्यवस्थाओं का खाका तैयार किया जाए। जिससे लोग सकुशल, निर्विघ्न रूप से महाकुंभ मेला पर्व में अच्छे से अपने धार्मिक क्रियाकलापों व स्नानों को संपन्न कर सकें। स्थानीय व्यापारियों, सामाजिक संगठनों के अलावा सभी के सहयोग व विचार विमर्श से कुंभ मेले की व्यवस्थाओं को लागू कराया जाए। श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज ने यह भी कहा कि देश विदेश से श्रद्धालु भक्तों का आगमन धर्मनगरी में होता है। यातायात पुलिसकर्मी मुख्य मार्गो के अलावा भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में वाहनों के जाम से राहत दिलाने वाली व्यवस्थाओं को लागू किया जाना चाहिए। जिससे बाहर से आने वाले यात्री श्रद्धालु वाहनों के जाम से निजात पा सके। उन्होंने कहा कि कुंभ मेले के स्नान पर्वो में कई बार हरकी पैड़ी व विभिन्न गंगा घाटों के अलावा नगर के अंदरूनी मार्गो, हाईवे पर वाहनों का जाम लग जाता है। भीड़ बढ़़ जाने के कारण कई प्रकार की दिक्कतें उत्पन्न हो जाती हैं। यातायात को सुचारू करने के लिए अनुभवी अधिकारियों से काम किया जाए। जिससे वह महाकुंभ मेले की यातयात व्यवस्था को सकुशलता से लागू करा सकें। मेला क्षेत्र में तैनात पुलिसकर्मी क्षेत्र की भौगोलिक परिस्थितियों से पूरी तरह से वाकिफ होने चाहिए। अनुभवी अधिकारियों की अधिक से अधिक तैनाती कुंभ मेले दौरान होनी चाहिए। मेला क्षेत्र में संतों के शिविरों की सुरक्षा को लेकर भी रणनीति के तहत काम किया जाए। जिससे संत समाज भी निर्भीक होकर महाकुंभ मेले के धार्मिक कार्यो को अच्छे से संपन्न कर सकें। उन्होंने महाकुंभ मेला अधिकारी दीपक रावत से भी महाकुंभ मेले की व्यवस्थाओं पर चर्चा करते हुए कहा कि महाकुंभ मेला क्षेत्र का विस्तार अतिशीघ्र किया जाना जरूरी है। सम्पूर्ण मेला क्षेत्र की भव्यता व आलोकिकता को लेकर तेजी से कार्य किए जाएं। आधे अधूरे निर्माणों को भी जल्द से जल्द पूरा किया जानाचाहिए। उन्होंने कहा कि तेरह अखाड़ों के संत लगातार शासन प्रशासन से सहयोग की अपील करते चले आ रहे हैं। ऐसे में शासन प्रशासन का दायित्व बनता है कि महाकुंभ मेले की व्यवस्थाओं को निष्ठा पूर्वक पूरा किया जाना नितांत जरूरी है। महाकुंभ मेला आईजी संजय गुंज्याल ने अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज को आश्वस्त करते हुए कहा कि महाकुंभ मेले में आने वाले संतों व श्रद्धालुओं को बेहतरीन सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध करायी जाएगी। किसी भी संत व श्रद्धालु को सुरक्षा प्रबंधों के चलते किसी प्रकार की परेशानी नहीं होने दी जाएगी।

About naveen chauhan

Check Also

महिलाओं को स्वयं अपनी मानसिकता बदलने की जरूरत

सोनी चौहान भारतीय जागृति समिति द्वारा भारतीय महिला जागृति समिति द्वारा, महिला कानून में, जागृति …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!