Breaking News
Home / Big News / प्रेमिका की रहस्यमयी मौत और प्रेमी की जेब से सेक्सबर्धक कैप्सूल

प्रेमिका की रहस्यमयी मौत और प्रेमी की जेब से सेक्सबर्धक कैप्सूल

नवीन चौहान
रिद्वार के एक होटल में जन्मदिन की मौज मस्ती करने आए प्रेमी युगल की खुशी उस वक्त काफूर हो गई जब प्रेमिका खून की उल्टी करने लगी। इससे पहले की प्रेमी कुछ समझ पाता प्रेमिका की रहस्यमयी मौत हो गई। होटलकर्मियों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृतका के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। प्रेमी से पूछताछ की जा रही है। पुलिस की तलाशी के दौरान प्रेमी की जेब से सेक्सबर्धक कैप्सूल बरामद हुआ है। पुलिस इस रहस्यममयी मौत की गुत्थी को सुलझाने का प्रयास कर रही है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। प्रथमदृष्टया मौत ब्रेन पर अटैक होने के चलते प्रतीत हो रही है।
होटल मैनेजर ने 15 मई 2019 की दोपहर एक कमरे में एक युवती की हत्या किए जाने की सूचना दी। सूचना पर पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय, सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह व तमाम पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस अधिकारियों ने होटल मैनेजर से जानकारी की। मैनेजर ने पुलिस को बताया कि सुबह करीब साढ़े नौ बजे एक युवक युवती खुद को दंपति बताते हुए कमरा बुक कराने पहुंचा था। आईडी लेने के बाद कमरा नंबर 204 दे दिया। जिसके बाद दोनों पति पत्नी ने केक काटा और खाना खाया। पुलिस ने कमरे में मौजूद युवती के पति बताने वाले युवक मोहन से पूछताछ की तो खुलासा हुआ कि वह प्रेमी है। युवक मोहन ने बताया कि वह दोनों सिडकुल की कंपनी में कार्य करते है। जन्मदिन मनाने के लिए आए थे। दोनों का करीब आठ सालों से प्रेम प्रसंग है। दोनों औरंगाबाद के ओराटोलिया निवासी बताए गए है। मोहन ने पुलिस को बताया कि आज उसका जन्म दिन है। इसीलिए केक काटने का प्रोग्राम रखा था। पुलिस को मोहन की बातों पर शक हुआ तो तलाशी ली गई। मोहन की जेब से एक सेक्सबर्धक कैप्सूल बरामद हुआ। मोहन ने बताया कि उसने सिडकुल के एक मेडिकल स्टोर से दो कैप्सूल खरीदे थे। जिसमें से एक कैप्सूल उसने खाया हुआ है। सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह ने बताया कि मोहन की जेब से सेक्सबर्धक कैप्सूल को तस्दीक कराने के लिए मेडिकल स्टोर संचालक से जानकारी ली जाएगी। वही उल्टी को फारेंसिक लैब भेजा जा रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मृत्यु का कारण स्पष्ट हो पायेगा।

About naveen chauhan

Check Also

एसआईटी चीफ मंजूनाथ टीसी के नाम से घबराते है कॉलेज संचालक

नवीन चौहान एसआईटी चीफ डॉ मंजूनाथ टीसी के नाम से ही छात्रवृत्ति घोटाले में संलिप्त …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!