Breaking News
Home / Crime / जेवर में हत्या और सामूहिक दुष्कर्म मामले में 4 पड़ोसी गिरफ्तार

जेवर में हत्या और सामूहिक दुष्कर्म मामले में 4 पड़ोसी गिरफ्तार

Read Time0Seconds

नोएडा: उत्तर प्रदेश के जेवर में एक व्यक्ति की हत्या और उसी परिवार की चार महिलाओं के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म मामले में शुक्रवार को पीड़ित परिवार के चार पड़ोसियों को गिरफ्तार कर लिया गया। एसटीएफ के एक अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, “यमुना एक्सप्रेसवे पर जेवर से दो किलोमीटर दूर गुरुवार को एक कबाड़ कारोबारी की हत्या कर दी गई और उसकी मां, पत्नी, बहन और बहू के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया। विशेष कार्य बल (एसटीएफ) ने इस सिलसिले में चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।”

गिरफ्तार आरोपियों की पहचान हाजी, मुन्ना व वहीम के रूप में हुई है। चौथे शख्स की पहचान अभी नहीं हो पाई है। गिरफ्तार आरोपी कथित तौर पर पीड़ितों के पड़ोसी हैं। एसटीएफ अधिकारी उनसे पूछताछ कर रहे हैं। उन्होंने कहा, “यह गिरफ्तारी पीड़ित महिलाओं द्वारा दिए गए बयान के आधार पर की गई है। पीड़ित महिलाओं की चिकित्सा जांच कराई गई है।” गौतम बुद्ध नगर ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक लव कुमार ने कहा, “महिला के बयान पर जिन चार लोगों की गिरफ्तारी की गई है, हम उनसे पूछताछ कर रहे हैं। हम व्यक्तिगत दुश्मनी के पहलू से भी मामले की जांच कर रहे हैं, क्योंकि परिवार के सदस्यों ने बयान बदल दिया है। पहली नजर में मामला लूट का प्रतीत होता है।”

कुमार ने कहा, “पीड़ितों का बयान आपराधिक प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 164 के तहत शनिवार को दंडाधिकारी के समक्ष दर्ज किया जाएगा। हमने संदिग्धों के स्केज बनाने के लिए विशेषज्ञों के एक दल को बुलाया है।” वहीं, जिला स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि प्रथम दृष्टया लगता है कि उनके साथ यौन उत्पीड़न नहीं हुआ है, हालांकि वे फॉरेंसिक जांच रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी अनुराग भार्गव ने कहा, “जिन महिलाओं ने सामूहिक दुष्कर्म का दावा किया था, उनकी सरकारी दिशा-निर्देशों के मुताबिक चिकित्सा जांच कर ली गई है।”

0 0
0 %
Happy
0 %
Sad
0 %
Excited
0 %
Angry
0 %
Surprise

About naveen chauhan

Check Also

सेल्स टैक्स और जीआरपी ने पकड़ा हरिद्वार के व्यापारी का सामान, लाखों का गोलमाल

नवीन चौहान जीएसटी विभाग की टीम और जीआरपी ने संयुक्त छापेमारी कर हरिद्वार के एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!