डीएम सविन बंसल ने 69 आउट आफ स्कूल बच्चों का कराया दाखिला, बच्चों को समझाया शिक्षा का महत्व

सोनी चौहान
जिलाधिकारी सविन बंसल बच्चों की शिक्षा और स्वास्थ्य के प्रति बेहद संजीदा है। उनके प्रयासों से गरीब और असहाय 69 आउट आफ स्कूल बच्चों को शिक्षा की मुख्यधारा में जोडने के लिए विभिन्न विद्यालयों मे दाखिला दिलवाया गया। साथ मे ही इन असहाय गरीब बच्चोें के लिए धरोहर बाल आश्रय गृह मे रहने और खाने की व्यवस्था भी की गई है। इन्ही बच्चोें को शिक्षा व स्वास्थ्य के प्रति प्ररित करने के उददेश्य से जिलाधिकारी कैम्प कार्यालय में बच्चों व उनके अभिभावकों को बुलाया गया। बच्चो और उनके अभिभावकों को शिक्षा के महत्व के बारे में बताया। बच्चों को शिक्षा के प्रति जागरूक करने और उनकी रूचि को उत्साहित करने के लिए शिक्षाप्रद, स्वास्थ विषयक व बाल प्रेरक फिल्में दिखायी गई। जिससे बच्चे नियमित स्कूल जाने के लिए प्रेरित हो सकें।


जिलाधिकारी बंसल ने सभी को नववर्ष की शुभकामनायें देते हुये कहा कि नये वर्ष में सभी बच्चे नियमित स्कूल जाने का संकल्प लें साथ ही उनके अभिभावक नववर्ष में नियमित बच्चोें को स्कूल भेजने के लिए प्र्रेरित करें। उन्होने कहा कि बेहतर शिक्षा सभी के लिए जीवन में आगे बढ़ने और सफलता प्राप्त करने के लिए बहुत आवश्यक है। शिक्षा आत्मविश्वास विकसित करने के साथ ही हमारे व्यक्तित्व निर्माण में भी सहायता करती है। स्कूली शिक्षा सभी के जीवन में महान भूमिका निभाती है। इसलिए उज्ज्वल भविष्य के लिए शिक्षा एक बहुत ही आवश्यक साधन है। शिक्षा का उच्च स्तर लोगों की सामाजिक और पारिवारिक सम्मान तथा एक अलग पहचान बनाने में मदद करता है। उन्होने कहा बच्चों के दो ही काम हैं पढना व खेलना। उन्होने बच्चों को स्वच्छता पर विशेष ध्यान देने के साथ ही अच्छा खाना खाने की पे्ररणा दी। उन्होने अभिभावकोें से बच्चों से बालश्रम न कराने व उनके बेहतर भविष्य के लिए स्कूल भेजने की अपील की। उन्होने कहा कि गरीब, असहाय बच्चो की शिक्षा के लिए प्रशासन द्वारा पूर्ण सहयोग दिया जायेगा। श्री बंसल ने बच्चों से दोहरा संवाद करते हुये कहा कि उनको किसी भी प्रकार की समस्या आने पर समय-समय पर उनसे वार्ता कर निराकरण किया जायेगा।


जिलाधिकारी श्री बंसल ने राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम टीम को जिन-जिन विद्यालयों में इन असहाय गरीब बच्चोें को दाखिला दिलाया है उनमें नियमित बच्चो का स्वास्थ्य परीक्षण व दवा वितरण करने के निर्देश डा0 अजय शर्मा को दिये। कार्यक्रम में जिलाधिकारी बंसल द्वारा बच्चों को शिक्षाप्रद, स्वास्थ, स्वच्छता विषयक फिल्में दिखाने के उपरान्त बच्चो के शिक्षाप्रद पुस्तकें, कलर पेंसिल, बाक्स, स्वास्थ्य किट गिफ्ट मे दिये गये साथ ही बच्चो को नाश्ता कराकर पेट के कृमिनाशक अलमेंडाजाॅल दवा भी खिलाई गई व आयरन फाॅलिड एसिड ल्यूक्विड दवा भी वितरित की गई।


बच्चोें व उनके अभिभावकों को सिटी मजिस्टेट प्रत्यूष सिह, बालविकास अधिकारी अनुलेखा बिष्ट,चिकित्सक डा0 अजय शर्मा, श्रम प्रवर्तन अधिकारी मीनाक्षी काण्डपाल, समाज कल्याण व महिला कल्याण अधिकारियों द्वारा स्वास्थ्य, पोषण, स्वच्छता,फल, सब्जियों प्राप्त विटामिन, आयरन, प्रोटीन के लाभों के बारे विस्तृत जानकारियां दी गई।
कार्यक्रम में जिला शिक्षा अधिकारी गोपाल स्वरूप, खण्ड शिक्षा अधिकारी हरेन्द्र मिश्रा,समाज कल्याण अधिकारी अमन अनिरूद्व, धरोहर संस्था के सचिव प्रकाश चन्द्र पाण्डे, रविन्द्र रौतेला आदि मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन एआरटीओ विमल पाण्डे व तुलिका द्वारा किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *