Breaking News
Home / Haridwar / डीएवी का नाम गूंजा तो शिक्षकों को भी मिली खुशी

डीएवी का नाम गूंजा तो शिक्षकों को भी मिली खुशी

नवीन चौहान, सीबीएसई बोर्ड के दसवीं कक्षा के रिजल्ट में टॉपरों की सूची में विद्यार्थियों के नाम देखने के बाद डीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल का नाम एक बार फिर जोरदार तरीके से गुंजायमान हुआ। रिजल्ट देखने के बाद जितनी खुशी परीक्षार्थियों को हुई उससे ज्यादा खुशी स्कूल के शिक्षक-शिक्षिकाओं के चेहरे पर देखने को मिली। मानो परीक्षा में रिजल्ट तो बच्चों का निकला और पास मास्टर जी हो गए। डीएवी स्कूल को ऊंचाईयों पर ले जाने पीछे प्रधानाचार्य पीसी पुरोहित के अथक प्रयासों को श्रेय मिलना भी जरूरी है। जिनके निर्देशन पर शिक्षक-शिक्षिकाए स्कूल में छात्रों के हितों को ध्यान में रखते हुए कठिन परिश्रम करते है। शिक्षकों के परिश्रम का नतीजा ही रिजल्ट के रूप में सामने आया है।
आर्य समाज के सिद्धांतों पर चलने वाले डीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल, जगजीतपुर सीबीएसई से मान्यता प्राप्त है। करीब डेढ़ दशक के भीतर ही डीएवी स्कूल ने एक बड़ा मुकाम हासिल किया है। अनुशासन और पढ़ाई के मामले में इस स्कूल की ख्याति बढ़ी है। स्कूल के नियमों ने अभिभावकों को आकर्षित किया है। अभिभावकों की कसौटी पर खरा उतरने के लिए स्कूल के प्रधानाचार्य पीसी पुरोहित ने भी अथक प्रयास किए। आधुनिक शिक्षा पद्धति और पुराने भारतीय संस्कारों का समन्वय बनाकर स्कूल को ऊंचाईयों पर ले जाने का लक्ष्य तय किया। प्रधानाचार्य की मुहिम रंग लाई और आज डीएवी स्कूल जिस स्थान पर है वहां हर अभिभावक अपने बच्चे का एडमिशन कराने का सपना देखता है। सीबीएसई की दसवीं की बोर्ड परीक्षाओं में हरिद्वार में स्कूल टॉप पर रहा है। स्टूडेंट को पढ़ाने में स्कूल के शिक्षक-शिक्षिकाओं ने भी अपनी जिम्मेदारी का बखूवी पालन किया। स्कूल से जुड़े सदस्यों की मेहनत का नतीजा है कि यहां के विद्यार्थी शिक्षा के क्षेत्र में नये कीर्तिमान स्थापित कर रहे है। डीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल के रिजल्ट में प्रधानाचार्य पीसी पुरोहित की कर्तव्यनिष्ठा और ईमानदारी की झलक साफ दिखाई दे रही है। डीएवी स्कूल हरिद्वार के टॉप स्कूलों में बरकरार रहा है।

About naveen chauhan

Check Also

एसआईटी चीफ मंजूनाथ टीसी के नाम से घबराते है कॉलेज संचालक

नवीन चौहान एसआईटी चीफ डॉ मंजूनाथ टीसी के नाम से ही छात्रवृत्ति घोटाले में संलिप्त …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!