Breaking News
Home / Big News / उत्तराखंड के औली में गुप्ता बंधुओं के बेटे की शादी में पहुंचे सीएम और योगगुरू

उत्तराखंड के औली में गुप्ता बंधुओं के बेटे की शादी में पहुंचे सीएम और योगगुरू

Read Time0Seconds

नवीन चौहान
उत्तराखण्ड की खुबसूरत वादियों में बसे औली में दक्षिण अफ्रीका और दुबई में बसे भारतीय मूल के उद्योगपति अतुल गुप्ता के सुपुत्र शशांक और दुबई के कारोबारी विशाल जालान की बेटी शिवांगी की शादी में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, योगगुरू बाबा रामदेव स्वामी चिदानंद, आचार्य बालकृष्ण समेत कई गणमान्य नागरिकों ने नव दंपति को आशीर्वाद दिया। पर्यावरण संरक्षण को समर्पित इस संस्कारी शादी में वर शशांक और वधु शिवांगी को शुभकामनायें देते हुये उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने पर्यावरण का प्रतीक रूद्राक्ष का पौधा भेंट कर नव जीवन की हरित शुरूआत करने हेतु प्रेरित किया।
हिमालय की वादियों में बसे औली में आज सूर्यउदय के साथ ही योग गुरू स्वामी रामदेव , स्वामी चिदानन्द सरस्वती, आचार्य बालकृष्ण और गुप्ता बधुंओं के विवाह में देश विदेश से आये अतिथियों ने योग, ध्यान और प्राणायाम की विभिन्न विधाओें का अभ्यास किया। शशांक और शिवांगी के विवाह का समारोह योगाभ्यास के साथ आरम्भ हुआ। उत्तराखण्ड की दिव्य धरती पर विवाह की रस्मों के साथ योग का अद्भुत संगम देखने को मिला। गुप्ता बधुंओं ने पूज्य संतों के सान्निध्य में हरित विवाह एवं पर्यावरण संरक्षण का संदेश देते हुये हिमालय की धरती पर आज 120 पौधों का रोपण किया, जिसमें देवदार, चीड़, बुरांस सहित पहाड़ी वातावरण में पायें जाने वाले पौधों का रोपण किया। इससे यह संदेश जाता है कि हमारे मानवीय व्यवहार से जो कुछ भी पर्यावरण को नुकसान हुआ होगा उसके लिये हमें कुछ प्रयास तो अवश्य करने चाहिये।
योगगुरू स्वामी रामदेव महाराज ने कहा कि गुप्ता बंधुुओं का पाणिग्रहण संस्कार भी पर्यावरण संरक्षण संस्कार के साथ सम्पन्न हुआ वास्तव में यह परिवार के साथ पर्यावरण की जिम्मेदारी उठाने का सर्वश्रेष्ठ उदाहरण है। आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि गुप्ता बंधुओं ने विवाह समारोह को अपने देश, अपनी जड़ों, संस्कारों, संस्कृति, भारतीय मूल्यांे, योग ओर पर्यावरण से जोड़कर जो दिव्य संदेश दिया वास्तव में साधुवाद के पात्र है।
स्वामी चिदानन्द सरस्वती, योगगुरू रामदेव और आचार्य बालकृष्ण ने वर शशांक और वधु शिवांगी के नव जीवन में प्रवेश के पावन अवसर पर शिवत्व का प्रतीक रूद्राक्ष का पौधा भेंट करते हुये हरित नव जीवन की शुरूआत का आशीर्वाद दिया। दादी अंगूरी देवी, अजय गुप्ता, अतुल गुप्ता और परिवार के अन्य सदस्य विवाह समारोह में पूज्य संता का आशीर्वाद और दर्शन प्राप्त कर अभिभूत हुये।

0 0
0 %
Happy
0 %
Sad
0 %
Excited
0 %
Angry
0 %
Surprise

About naveen chauhan

Check Also

गुरुकुल काँगड़ी विश्वविद्यालय के शिक्षक संघ के पदाधिकारियों का चुनाव सम्पन्न

सोनी चौहान गुरुकुल काँगड़ी विश्वविद्यालय शिक्षक संघ के समस्त पदाधिकारियों का चुनाव निर्विरोध सम्पन्न हो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

chef-add
space-available
error: Content is protected !!