Breaking News
Home / Big News / हरिद्वार पुलिस ने सुलझाई हत्या की गुत्थी, चंद घंटों में पकड़ा कातिल

हरिद्वार पुलिस ने सुलझाई हत्या की गुत्थी, चंद घंटों में पकड़ा कातिल

नवीन चौहान
कब्रिस्तान में मृत अवस्था में मिले अनिल नाम के युवक की हत्या की गई थी। हत्या की वजह मोमबत्ती बुझाने को लेकर हुआ झगड़ा बनी। पुलिस ने पूरे सूझबू्झ से इस हत्याकांड में शामिल रहे आरोपी विकास पुत्र प्रीतम सिंह निवासी लक्ष्मी विहार रावली महदूद को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त टाईल्स का टुकड़ा बरामद कर लिया गया है।
एसएसपी जन्मेजय खंडूरी ने सिडकुल थाने में अनिल हत्याकांड का खुलासा किया। बताया कि 2 मई की सुबह सिडकुल थानातंर्गत कब्रिस्तान से ट्रांसपोर्ट कंपनी कर्मचारी अनिल कुमार का शव बरामद हुआ था। मृतक का सिर पर चोट का निशान था। मृतक के भाई की योगेश अवस्थी पुत्र रामकुमार निवासी यूपी शाहजहांपुर की तहरीर पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया। पुलिस इस हत्याकांड का खुलासा करने में संजीदगी से जुट गई। एएसपी आयुष अग्रवाल के नेतृत्व में सिडकुल थाना प्रभारी देवराज शर्मा मृतक के संबंधों को खंगालने लगे। जांच करने के दौरान पुलिस को अहम सुराग हाथ लगे। पुलिस ने आरोपी विकास को दबोच लिया। पुलिस पूछताछ में आरोपी ने अनिल की हत्या करने की बात स्वीकार कर ली। आरोपी ने बताया कि घटना की रात वह शराब के नशे में कब्रिस्तान में गया था। कब्रिस्तान में उसने नशे का इंजेक्शन लगाने के लिए मोमबत्ती जलाई हुई थी। इसी बीच वहां अनिल आ गया। अनिल भी नशे में था और उसने लात मारकर मोमबत्ती बुझा दी। मोमबत्ती बुझाने पर दोनों के बीच कहासुनी और हाथापाई हो गयी। हाथापाई के दौरान अनिल ने विकास के ऊपर टाईल्स का टुकड़ा फेंककर मारा। आरोपी विकास ने उसी टाईल्स के टुकड़े को उठाकर अनिल के सिर पर दे मारा। जिससे वह नीचे गिर गया। इसके बाद विकास ने टाईल्स से उसके सिर पर कई वार कर दिए। जिससे उसकी मौत हो गयी।

About naveen chauhan

Check Also

एसआईटी चीफ मंजूनाथ टीसी के नाम से घबराते है कॉलेज संचालक

नवीन चौहान एसआईटी चीफ डॉ मंजूनाथ टीसी के नाम से ही छात्रवृत्ति घोटाले में संलिप्त …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!